Blog

NKS

Yatharth Sandesh
29 Jan, 2019(Hindi)
History

झूठ का पिटारा था शाहजहाँ और मुमताज़ की प्रेमकहानी

/
0 Reviews
Write a Review

689 Views

 
झूठ का पिटारा था शाहजहाँ और मुमताज़ की प्रेमकहानी ....,,,,
मुमताज का असली नाम “ अर्जुमंद-बानो-बेगम” था, जो शाहजहाँ की पहली पत्नी नहीं थी.
मुमताज के अलावा शाहजहाँ की 6 और पत्नियां भी थी और इसके साथ उसके हरम में 8000 रखैलें भी थी.
मुमताज शाहजहाँ की चौथे नम्बर की पत्नी थी. मुमताज से पहले शाहजहाँ 3 शादियाँ कर चुका था. मुमताज से शादी करने के बाद 3 और लड़कियों से विवाह किया था.
मुमताज का विवाह शाहजहाँ से होने से पहले मुमताज शाहजहाँ के सूबेदार शेर अफगान खान की पत्नी थी. शाहजहाँ ने मुमताज का हरम कर विवाह किया.
मुमताज से विवाह करने के लिए शाहजहाँ ने मुमताज के पहले पति की हत्या करवा दी थी.
शाहजहाँ से विवाह के पहले मुमताज का शेर अफगान खान से एक बेटा भी था.
मुमताज शाहजहाँ के बीवियों में सबसे खुबसूरत नहीं थी. बल्कि उसकी पहली पत्नी इशरत बानो सबसे खुबसूरत थी.
मुमताज की मौत उसके 14 वे बच्चे के जन्म के बाद हुई थी.

Featured Posts

Reviews

Write a Review

Select Rating